Pages

हिंदी चेतना - अंक अक्टूबर २०१२ - लघुकथा विशेषांक


श्री श्‍याम त्रिपाठी के संपादन में कैनेडा से प्रकाशित त्रैमासिक साहित्यिक पत्रिका 'हिन्‍दी चेतना' का अक्‍टूबर दिसम्‍बर अंक 'लघुकथा विशेषांक' अब उपलब्‍ध हैजिसमें हैं सौ से भी अधिक लघुकथाएं  अतिथि सम्‍पादक द्वय श्री रामेश्‍वर काम्‍बोज 'हिमांशुतथा श्री सुकेश साहनी द्वारा सम्‍पादित एक संग्रहणीय अंक  आधारशिलाअविस्‍मरणीय,नई ज़मीनसम्‍पदास्‍वागतम् और मेरी पसंद स्‍तंभों के अंतर्गत प्रेमचंदउपेंद्रनाथ अश्‍कहरिशंकर परसाईशरद जोशीराजेंद्र यादवरघुबीर सहायचेखवकाफ्काचार्ली चैपलिन,असगर वजाहतआनंद हर्षुलचित्रा मुद्गलउदय प्रकाश सहित सौ से भी अधिक कहानीकारों की लघुकथाएं  लघुकथा को लेकर डॉ श्‍यामसुंदर दीप्तिडॉ सतीशराज पुष्‍करणा,श्‍याम सुंदर अग्रवालसुभाष नीरवडॉ सतीश दुबेभगीरथ की विशेष परिचर्चा  लघुकथा की सृजनात्‍मक प्रक्रिया श्री काम्‍बोज का विशेष लेख  लघुकथा पर एक समग्रदस्‍तावेज  साथ में पुस्तक समीक्षासाहित्यिक समाचारचित्र काव्यशालाविलोम चित्र काव्यशाला और आख़िरी पन्ना  यह लघुकथा विशेषांक अब ऑनलाइन उपलब्‍ध है,पढ़ने के लिये नीचे दिये गये लिंक पर जाएं 

हिंदी चेतना के इस अंक को पढने के लिए यहाँ क्लिक करें.
पत्रिका को आन लाइन पढने के लिए यहाँ क्लिक करें.

1 टिप्पणियाँ:

Abnish Singh Chauhan said...

Hardik badhai sweekaren!

Post a Comment