Pages

हिंदी चेतना - अंक अप्रैल २००९

हिंदी चेतना - अंक अप्रैल २००९ (कृपया इस लिंक पर क्लिक कर के पत्रिका डाउनलोड करें)

7 टिप्पणियाँ:

dr_avasthi said...

kya baat hai! aap itni door baithe bhi kitna saarthak kaam kar rahe hain. Mera sehyog hamesha milega. --Dr. Om Avasthi

Anonymous said...

Beautiful. It goes to your credit that you are bringing out such a magazine that is representive of all Hindi writers of North America. Thanks again.Satyapal Anand

Anup Sethi said...

प्रिय संपादक,

सात समुद्र पार हो रहे इस तरह के सद्प्रयास उम्‍मीद जगाते हैं और उत्‍साह पैदा करते है. क्‍योंकि हम हिंदी पट्टी की हिंदी-उदासी से अक्‍सर हताश हुए रहते हैं. आप लोग एक तरह से इतिहास रच रहे हैं. बधाई.

आचार्य संदीप कुमार त्यागी "दीप" said...

ऑन्लाइन हिन्दी चेतना का पदार्पण हिन्दी जगत की जागरुकता में नये उत्साह का संचरण करेगा।आदरणीय त्रिपाठी जी को शतश: शुभकामनायें।सभी सुपठित पाठकों एवं लेखनी ललाम लेखकों से लाख लाख अनुरोध है कि अपनी टिप्पणियों को हिन्दी में टंकित कर अपनी मातृभाषा का मान बढ़ाएं!

Anonymous said...

aaj pahli baar Hindi Chetna ko dekha. Apne aap main adbhut karya kar rahe hain aap log. Samagri ki vividhta aur stra ise ek sampooran patrika ka swaroop pradan karte hain. Subhash Neerav se Dr. Dhingra ka sakshatkar sankshipt lekin vicharpooran hai. Aur us par Chandel Bhai ka Kamleshvar ji par sansmaran. Parshansniya hai. Patrika main apni rachna bhej kar mujhe khushi hogi. RAMESH KAPUR, INDIA 9891252314

जयप्रकाश मानस said...

आपकी टीम को नमन ।

Niraj said...

itni dur vipreet paristhitiyo me,itna safal prayog...Hindostan me hindi ki durdasha..hum sabko ek sabak diya hai apne...
kunwar Niraj Singh
Jewan Kothi
Shahjahanpur

Post a Comment